KNOWKAHINDI

KNOWKAHINDI
KNOWKAHINDI

खुश रहने के बहुत ही अच्छा उपाय |

दोस्तों में आज आपको खुश रहने के तरीका के बारे में बताउगा | दोस्तों दुनिया में सबसे बड़ा सुख खुश रहना है | दोस्तों खुश रहने से अनेक बीमारी खुद समाप्त हो जाता है | आज के वर्तमान समय में लोग कुछ बाते लेकर अपसेट हो जाते है | छोटी छोटी समस्या के कारण चिंता में आ जाता है | चिंता के अनेक कारण हो सकते है | जैसे किसी चीज का नुकसान हो जाना | धन की कमी ,कोई कुछ अपशब्द बोल दिया ,समय पर सोचा काम नहीं होना , आदि  हो सकते है | दोस्तों हमारे हाथ में सिर्फ कर्म है और कुछ भी नहीं | अगर फल मीठा  ही मिला तो रुकिए मत उससे आगे जाइए | चिंता का चिता जलाइए | चिंता नहीं चिंतन कीजिए | बाद में जो होने का है वहा तो होगा | हमे नहीं थकना है और ना ही रुकना है हमे सिर्फ आगे की ओर जाना है | आइये दोस्तों जानते है खुश रहने के लिए किया करे | 

1 सबसे पहले आप प्रतिज्ञा ले की कुछ भी हो जाए हमे खुश रहना है | क्योंकि खुश रहना आपने हाथ में है | 

2 क्षमा दान दे , माफ करना सीखे | इससे आपको किसी पर गुस्सा नहीं आयेगा | गुस्सा दुःख की निशानी है इसको आपने से अलग करें | 

3 सकारात्मक रहे हमेशा अच्छी बाते सोचे | 

4 हमेशा कुछ ना कुछ करते रहिए | इससे चिंता आपसे दूर ही रहेगी | 

5 अच्छे दोस्तों के साथ समय बिताए | 

6 ना कहना सीखे | दोस्तों यह जरूरी है क्योकि जो काम आपको करना पसंद नहीं है और कोई कहता है यह कर दो अगर आप करना नहीं चाहते है तो सीधा ना कह दे | अगर आपको ना कहना नहीं आता है तो आपको जीवन में बहुत परेशानी आने वाला है | इस लिए ना कहना सीखे | 

7 दूसरे के मुँह से बुरा सुनकर हमे दुःख में नहीं आना है | हम किसी को  बोलने से रोक नहीं सकते है | 

8 दोस्तों जब आप उठो तो मन में एक ही सकल्प ले की आज हमे खुश रहना है | दोस्तों संकल्प में बहुत शक्ति होती है | 

9 दोस्तों दुनिया में सब का आपना आपना किरदार है | सभी एक दूसरे से अलग है किसी के किसी का तुलना नहीं हो सकता है | तुलना किसी से मत कीजिए | 

10 दोस्तों कहा जाता है की जैसे अन्न वैसा मन इसलिए अच्छे भोजन करे | 


Sky, Freedom, Happiness, Relieved, Prayer, Open Arms


11 भोजन करते समय मन को शांत रखे | भोजन करते समय टीवी या दूसरे काम पर ध्यान ना दे | 

12 दोस्तों शरीर एक मंदिर है अगर शरीर स्वस्थ रहेगा तो मन को शांत रखमे में आसानी होगी इसलिए योग व्यायाम इत्यादि करे | अच्छे खाने खाए समय पर गाए | 

13 दुसरो की मदद करे | दुसरो की मदद करने से शांति मिलती है | 

14 अपनी कमजोरी पहचान कर उस कमजोरी को ही कमजोर कर दे | 

15 मंजिल चुने और जब तक मंजिल नहीं मिले तब तक आगे चलते रहिए यह भी जरूरी नहीं है की हमेशा सफलता ही मिलेगा | असफलता मिलने पर दुःखी नहीं होना है इसे भी अवसर में लेना है | दोस्तों यह जान ले की जब तक जीवन में असफलता नहीं मिलेगा तब तक सफलता का महत्व का पता भी नहीं चलेगा | इसलिए असफलता होना पर ना नहीं दुःखी होंगे और ना ही सफलता होने पर अति उत्साह में आएंगे | 

16 टीवी इंटरनेट पर अच्छे चीज देख सकते है | 

17 मन को शांत रखने के लिए ध्यान कीजिए | 

18 ज्यादा ना सोचे | 

19 दोस्तों जीवन में संतुष्ठ होना सीखे | 

20 दोस्तों जीवन में खुश रहने के लिए दूसरे को खुशी का दान दे | दोस्तों आप तो यह तो जानते ही है जितना आप दूसरे को ज्ञान का दान जितना कीजिएगा उतना ही ज्ञान में वृध्दि होगा | इसी प्रकार जितना आप खुशी का दान कीजिएगा उतना ही खुशी आपके पास आएगी  | 





एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ