KNOWKAHINDI

KNOWKAHINDI
KNOWKAHINDI

इंडिया का केन्द्रशासित प्रदेश | INDIA KA KENDRASHASIT PRADESH

दोस्तों आज मै आपको भारत के केंद्र शासित प्रदेश के बारे में बताउगा | दोस्तों भारत एक बहुत खूबसूरत देश है | भारत देश का इतिहास बहुत ही सुन्दर था | भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता है | लोग विदेश से भारत में पढ़ने आते थे | विक्रमशिला विश्वविध्यालय और नालंदा विश्वविध्यालय जैसे विश्वविध्यालय में लोग विध्या का अध्ययन करने आते थे | भारत वर्तमान समय में विकासशील देश में से एक है | भारत देश बहुत तेजी के साथ विकास कर रहा है | और करे भी क्यों ना भारत में दुनिया का सबसे बड़ा आबादी युवा का है | भारत में सबसे ज्यादा युवा है चीन के जनसंख्या हमारे देश से ज्यादा है लेकिन युवा के मामले में हम चीन से आगे है | देश का भविष्य काफी हद तक युवा पर टिका होता है | भारत में 28 राज्य और 9 केंद्र शासित प्रदेश है | भारत का सबसे बड़ा राज्य राजस्थान है और सबसे छोटा राज्य गोवा है | भारत में गोवा घूमने के लिए बहुत ही खूबसूरत जगह है | तो दोस्तों आइये जानते है इंडिया के केंद्र शासित प्रदेश के बारे में |

अंडमान और निकोबार द्वीप - यह भारत का एक केंद्र शासित प्रदेश है | यहां का राजधानी पोर्ट ब्लेयर है | पोर्ट ब्लेयर यहां का सबसे बड़ा शहर भी है | अंडमान और निकोबार द्वीप में 3 शहर स्थित है | यहां का राजभाषा हिंदी और इंग्लिश है | अंडमान और निकोबार द्वीप का गठन 1 नवंबर 1956 को हुआ था | यह बंगाल के खाड़ी से दक्षिण में हिन्द महासागर में स्थित है | यह केंद्र शासित प्रदेश लगभग 572 छोटे बड़े द्वीप मिलकर बना है | इनमे से केवल 36 दूवीप पर लोग रहते है | सब दूवीप पर लोग नहीं रहते है | दोस्तों आपने वेस्टइंडीज का नाम सुना होगा | वेस्टइंडीज कोई देश नहीं बल्कि दूवीप है | इस दूवीप का मूल निवासी जंगल में रहते है |


अंडमान शब्द मलय भाषा के शब्द हांदुमन शब्द से आया है | हांदुमन शब्द हिन्दू देवता हनुमान जी के नाम से परिवर्तन हुआ है | और निकोबार शब्द का मतलब होता है | नग्न लोगो की भूमि | यह दूवीप बहुत ही प्रकृति युक्त जगह है | अंडमान और निकोबार में 17 वी सदी में मराठो द्वारा अधिकार किया गया था | फिर इस द्वीप पर अग्रजो का शासन रहा | विश्व युद के बाद इस द्वीप पर जापान का शासन हो गया | कुछ समय के लिए यह द्वीप पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस और उसके फौज आजाद हिन्द फौज का शासन रहा |


चंडीगढ़ - चंडीगढ़ पंजाब और हरियाणा राज्य का राजधानी है | चंडीगढ़ का अर्थ होता है चंडी का किला | यह नाम माँ दुर्गा के एक स्वरूप चंडी के एक मंदिर के कारण पड़ा | यह मंदिर इस शहर का पहचान है | चंडीगढ़ को हरे रंग का शहर भी कहा जाता है | चंडीगढ़ एक बहुत ही साफ सुथरा वाला जगह में से एक है | यह एक बहुत ही अच्छा शहर में से एक है | अगर आपको साईकिल चलाना पसंद है तो यह शहर आपके लिए बहुत ही अच्छा है क्योकि यहां पर साईकिल चलाने के लिए अलग से सड़क बनाया गया है | चंडीगढ़ का इतिहास लगभग 8000 वर्ष पुराना है | यह शहर पहली वार हड़प्पा वासियो द्वारा बसाया गया था | चंडीगढ़ का आधिकारिक प्रतीक ओपन हैंड है | यह चिन्ह शांति है मिलाप का प्रतिक है |


दादरा और नगर हवेली - दादरा और नगर हवेली इंडिया का एक केंद्र शासित प्रदेश है | यह प्रदेश महाराष्ट्र और गुजरात के बीज में स्थित है | मध्यकालीन भारत में इस पर मराठा शासक का शासन था | पानीपत के युद्ध के बाद मराठा का शक्ति कम हो गया | पुर्तगाली का प्रभाव इसपर अधिक हो गया | दादरा और नगर हवेली पर पुर्तगाल का शासन हो गया | दादरा और नगर हवेली का राजधानी सिलवास है | दादरा और नगर हवेली में एकमात्र जिला है | दादरा और नगर हवेली का क्षेत्रफल 491 वर्ग किलोमीटर है | दादरा और नगर हवेली का गठन 11 अगस्त 1961 को हुआ था | पुरे प्रदेश में दमन नदी बहती है | दादरा और नगर हवेली का पर्यटन स्थल आदिवासी संग्रहालय , सतमालिया डियर पार्क , दुधनी झील , वनगंगा लेक गार्डन , वसोना लायन सफारी आदि पर्यटन स्थल है |



INDIA



दिल्ली - दोस्तों आप जानते ही है की दिल्ली भारत का राजधानी है | दिल्ली को देश का दिल कहा जाता है | दिल्ली को 1 नवंबर 1956 को केंद्र शासित प्रदेश में शामिल किया गया था | देश का राजधानी 1911 के पहले कोलकोता था लेकिन 1911 में दिल्ली को देश का राजधानी बनाया गया | दिल्ली में आपको हर प्रांत का लोग मिल जाएगा | दिल्ली का उल्लेख महाभारत में भी है | 

दिल्ली को महाभारत में इंद्रप्रस्थ नाम से उल्लेख किया गया था | इंद्रप्रस्थ में पांडवो का राजधानी था | अगर आप कभी भी दिल्ली जाइये तो इस स्थान पर जरूर जाइये | दिल्ली में लाल किला , इंडिया गेट , क़ुतुब मीनार , अक्षरधाम मंदिर , छत्तरपुर मंदिर , आइकॉन मंदिर , लोटस मंदिर , राष्ट्रपति भवन , दिगंबर जैन मंदिर, राष्ट्रीय विज्ञानं केंद्र , यहां पर दोस्तों घूमने के लिए बहुत से प्रसिद्द स्थान है | दोस्तों राजनेता के लिए दिल्ली बहुत महत्वपूर्ण स्थान है | क्योकि यहा पर ही राष्ट्रपति का निवास प्रधानमंत्री का निवास लोकसभा और राज्यसभा है | दिल्ली घूमने की दृष्टि से एक अच्छा केंद्रशासित प्रदेश है |

दमन और दीव - दमन और दीव इंडिया का केंद्र शासित प्रदेश है दमन और दीव अरब सागर में स्थित है | इस प्रदेश का राजधानी दीव है | दमन और दीव गोवा के आजादी के बाद भी पुर्तगाली के अधीन था | 1961 में दमन और दीव इंडिया का अभिन्न हिस्सा हो गया | 30 मई 1987 को दमन और दीव का गठन किया गया | यहां का प्रमुख फसल धान बाजरा ज्वाला दाल गेहू चीकू , आम केला नारियल गन्ना आदि है | दमन और दीव में आपको प्रकृति का मोहक देखने को मिलेगा | गर्मी के दिन में आप दमन और दीव के समुद्र के किनारे और आस पास के जगह पर जाने का प्लान बना सकते है |


लद्दाख - लद्दाख आपको प्रकृति का सुन्दर होने का अहसास कराती है | लद्दाख विशाल पर्वत और रहस्यमयी झीलों का अहसास कराता है | लद्दाख इतना सुन्दर है की लोग इसे चाँद का देश कहते है | लद्दाख भारत के सबसे ज्यादा ऊंचाई पर बसा हुआ प्रदेश है | लद्दाख भारत का केंद्र शासित प्रदेश 31 अक्टूबर 2019 को बना | लद्दाख में दो जिला है | लेह इसकी राजधानी है | यहां पर आपको कूबड़ वाले ऊंट देखने मिलेगा | यह ऊँट बहुत दुर्लभ प्राणी है क्योकि इस प्रकार का ऊँट पूरी दुनिया में सिर्फ दो ही जगह पाया जाता है | ऑस्टेलिया और भारत के लद्दाख में ही इस प्रकार का ऊँट पाया जाता है |

लक्षद्वीप - लक्षद्वीप का स्थापना 1 नवंबर 1956 को हुआ था | लक्षद्वीप का क्षेत्रफल 32 वर्ग किलोमीटर है | लक्षद्वीप में केवल 1 जिला है | लक्षद्वीप इंडिया का सबसे छोटा केंद्र शासित प्रदेश है | यहां का अधिकारी भाषा मलायम और इंग्लिश है | लक्षद्वीप केरल तट से अरब सागर में स्थित है | 


जम्मू कश्मीर - दोस्तों जम्मू कश्मीर को धरती का स्वर्ग कहा जाता है | जम्मू कश्मीर प्रकृति से परिपूर्ण जगह में से एक है | जम्मू कश्मीर में माँ वैष्णो देवी का मंदिर है | यह स्थान बहुत ही पवित्र है | जम्मू कश्मीर में अमरनाथ का मंदिर है | शिव भक्तो के लिए यह स्थान बहुत ही महत्व रखता है | माँ वैष्णो देवी मंदिर और अमरनाथ धाम का दर्शन करने हर साल लाखों भक्त यहां आते है | महामाया शक्तिपीठ मंदिर लोगो का आस्था का बहुत ही बड़ा केंद्र है | कहा जाता है की यह पीठ 51 शक्तिपीठ में से 1 है | यह मंदिर अमरनाथ के गुफा में स्थित है | दोस्तों यह एक पवित्र स्थान है | लेकिन इस स्थान पर कुछ विवाद भी है | जब 370 यहां पर था तो इस प्रदेश का आपने झंडा था | और इस प्रदेश का आपना ही कानून चलता था | लेकिन जब से यह प्रदेश को केंद्र शासित प्रदेश घोषित हुआ है तब यह प्रदेश केंद्र सरकार के अधीन हो गया | 


पुडुचेरी - पुडुचेरी का राजधानी पुडुचेरी ही है | पुडुचेरी प्रदेश का सबसे बड़ा शहर भी है | पुडुचेरी को वाइट टाउन के नाम से भी जाना जाता है | पुडुचेरी का क्षेत्रफल 492 वर्ग किलोमीटर है | पुडुचेरी का गठन 1 नवंबर 1954  को हुआ था | यह एक शांति पूर्ण जगह में से एक है | अगर दोस्तों आपको शांति वाला जगह पंसद है तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा जगह है  | यह पर घूमने के लिए पेराडाइज बीज भी है | 


दोस्तों भारत एक देवभुमि है यह एक पवित्र स्थान है | 









एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ