KNOWKAHINDI

KNOWKAHINDI
KNOWKAHINDI

सिकंदर के घोड़ा का क्या नाम था |

दोस्तों आपने तो सिकन्दर का नाम तो सुना ही होगा | सिकंदर आपने जीवन में एक भी युद्ध नहीं हारा है | सिकंदर वह आदमी थे जो सबसे पहले पूरी दुनिया जितने का सपना देखा था | सिकंदर को 100 प्रभावशाली आदमी में से गिना जाता है |

सिकंदर का जन्म 20 जुलाई 356 ईसा पूर्व हुआ था | उसका पिता का नाम फिलिप था और उसकी माता का नाम ओलपिंयस थी | जब वह 13 वर्ष के तब उसके पिता ने उसे अरस्तु के पास ले गया | अरस्तु सिकंदर के शिक्षक थे | और 16 वर्ष में सिकंदर ने शिक्षा प्राप्त कर आपने राज्य लौट गया | अलेग्जेंडर का मतलब होता है मानवता का रखवाला | अलेग्जेंडर सिकंदर का ही नाम है |
Alexander The Great, Greek, Portrait, Greece, Macedon





अलेग्जेंडर के दोने आँख के रंग अलग - अलग था |  सिकंदर अपनी मृत्यु तक वह सभी भाग का आधा हिस्सा जीत चुका था | जिसकी जानकारी प्राचीन ग्रीक के लोगो को था | लेकिन वह दुनिया का 5 % ही जीता था | सिकंदर के तीन पत्नी थी | और उसे 2 संतान था | ऐसा कहा जाता है की सिकंदर के मृत्यु के बाद सिंकंदर के संतान का हत्या कर दिया था |


सिकंदर के पास एक घोड़ा था और उसका नाम BUCEPHALUS था | और वह उससे बहुत प्यार करता है | उसकी मृत्यु पंजाब में हो गया था | सिकंदर ने झेलम नदी के तट पर जो दो शहर बसाया था उनमे से एक का नाम अपने घोड़े के याद में ब्युसेफेलस रखा |



Alexander The Great, Skopje, Statue



सिंकंदर को कोई नहीं हरा पाया था | इसलिए उसे सिकंदर महान कहा जाता है | सिकंदर को किसी ने अगर टक्कर दिया था तो वह है राजा पोरस | पोरस पौरो का राजा था | यह क्षेत्र झेलम और चिनाब के बीच है जो अब पंजाब में है | पोरस सिंध पंजाब सहित बहुत बड़े भू भाग के स्वामी थे | इस क्षेत्र में  खोखरो ने राजपूत सम्राट पृथ्वीराज की हत्या का बदला लेने के लिए गोरी को मौत का घाट उतार दिया | पोरस ने ही ही सिकंदर के विजय रथ को रोका था | पोरस ने सिकंदर के सेना में खौफ पैदा कर दिया था | 
सिंकदर को ग्रीस के होमर नाम के आदमी से बहुत प्रभावित था जो की एक कवि था | उसकी किताब वह आपने पास हमेशा रखता था | यह किताब उसके गुरु अरस्तु ने दिया था |  



 

   

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ