KNOWKAHINDI

KNOWKAHINDI
KNOWKAHINDI

Full form of nato

दोस्तों आज हम जानेगे नाटो क्या है इस संगठन का मुख्यालय कहाँ स्थित है इसकी स्थापना का उदेश्य, इतिहास क्या है इसमें कौन कौन सा देश शामिल है संगठन के सामने चुनौतियां और साथ ही जानते Full form of nato नाटो का फुल फॉर्म क्या है | 


Full-form-of-nato
Full form of nato 


Full form of nato नाटो का फुल फॉर्म क्या है | 


द्वितीय विश्वयुद्ध जब खत्म हुआ तो उस समय सम्पूर्ण यूरोप की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी | वहां के लोगो का दैनिक जिंदगी निम्न स्तर पर पहुंच गया था | 


इसी का लाभ उठाने के लिए सोवियत संघ ने तुर्की ग्रीस पर प्रभाव स्थापित करना चाहा | सोवियत संघ अगर ये देश पर अधिकार जीत लेता तो उसका नियंत्रण काला सागर पर हो जाता इससे सोवियत संघ को बहुत फायदा होता | 

जिससे आस - पास के देशों पर साम्यवाद की स्थापना करना बहुत आसान हो जाता और भूमध्य सागर के रास्ते होने वाले व्यापर को प्रभावित कर सकता था 

विश्व युद्ध की घटना के कारण पूरा विश्व चिंतित होने लगा | भविष्य में ऐसा कोई और घटना ना हो कई देशो के बुद्धिजीवियों ने मिलकर संयुक्त राष्ट्र का गठन किया | इसे शक्ति प्रदान करने के लिए एक सैन्य संगठन की आवश्यकता  महसूस की गयी | 


Full form of nato 


NATO का  NORTH ATLANTIC TREATY ORGANIZATION (उत्तर अटलांटिक संधि संगठन ) है | 



N - North उत्तर

A - Atlantic- अटलांटिक 

T - Treaty - संधि 

O - Organization - संगठन 

इसका जब शुरुआत में गठन हुआ था तो यह एक राजनितिक संगठन से अधिक कुछ नहीं था | Full form of nato नाटो का फुल फॉर्म क्या है यह जाना आगे जानते है यह क्या है | 


What is nato 


यह एक सैन्य गठबंधन है  फुल फॉर्म नार्थ एटलांटिक ट्रीटी ऑर्गेनाइजेशन है जिसे हिंदी में उत्तरी एटलांटिक कहा जाता है | 

संगठन ने सामूहिक सुरक्षा की व्यवस्था बनाई है जिसके तहत अगर कोई अन्य country इसपर हमला करता है तो उस समय यह सदस्यों देशो को सहयोग करने के लिए सहमत होंगे | 

स्थापना 4 अप्रैल 1949 को हुआ था | 

वर्तमान में इसके सदस्य की संख्या 30 है | आरम्भ में सदस्य की संख्या 12 थी जो अब बढ़कर 30 हो चुका है |  सभी सदस्यों की संयुक्त सैन्य खर्च दुनिया के कुल रक्षा खर्च का 70 फीसदी से अधिक है | 


Nato headquarters नाटो का मुख्यालय |


मुख्यालय बेल्जियम की राजधानी ब्रुसेल्स में है | उत्तर पश्चिमी यूरोप में एक देश है यह यूरोपीय संघ का संस्थापक सदस्य है | बेल्जियम आधिकारिक तौर पर 'Kingdon of belgium' नाम से जाना जाता है | यह पर

ज्यादातर फ्रेंच जर्मन और डच बोलने वाले लोग पाए जाते है | फ्रेंच और डच यहां की आधिकारिक भाषाएं है | इस country में 18 वर्ष तक शिक्षा अनिवार्य है जो बहुत अच्छी बात है | 

चॉकलेट का उत्पादन बहुत होता है  समुद्र तल से मात्र 181 मीटरके ऊंचाई पर स्थित है | फुटबॉल बहुत पसंद किया जाता है | india में लोग क्रिकेट को सबसे ज्यादा पसंद करते है लेकिन यह इंडिया का राष्ट्रीय खेल नहीं है | यहां मतदान करना अनिवार्य है | 



NATO MEMBER 


  • United State  - संयुक्त राज्य अमेरिका 
  • United Kingdom - यूनाइटेड किंगडम 
  • Albania - अल्बानिया 
  • Belgium - बेल्जियम 
  • Bulgaria - बुल्गारिया 
  • Canada - कनाडा 
  • Croatia - क्रोएशिया    
  • Czech Republic - चेक रिपब्लिक 
  • Denmark-  डेनमार्क 
  • Estonia - इस्तोनिया  
  • France - फ़्रांस 
  • Germany - जर्मनी 
  • Greece - ग्रीस 
  • Hungary - हंगरी 
  • Iceland - आइसलैंड 
  • Italy - इटली 
  • Latvia - लातविया 
  • Lithuania - लिथुआनिया 
  • Luxembourg - लक्जमबर्ग 
  • Montenegro - मोंटेनिग्रो 
  • Netherlands - नीदरलैंड 
  • North Macedonia - उत्तर मैसिडोनिया 
  • Norway - नार्वे 
  • Ploand - पौलैंड 
  • Portugal - पुर्तगाल 
  • Slovakia - स्लोवाकिया 
  • Romania - रोमनिया 
  • Slovenia - स्लोवेनिया 
  • Spain - स्पेन 
  • Turkey - तुर्की 

अमेरिका इस समय दुनिया का सबसे शक्तिशाली देशो में एक है इसे सुपर पावर कहा जाता है इस समय भारत और अमेरिका का संबंध बहुत अच्छा है | 



Why was nato established


द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद तत्कालीन सोवियत संघ ने पूर्वी यूरोप से अपनी सेना हटाने से इंकार कर दिया और साथ ही अंतरराष्ट्रिय जो संधि बना था उसको नहीं मानना और उल्लंघन करना |

1948 में बर्लिन में नाकेबंदी कर दिया | इसलिए अमेरिका ने एक ऐसा संगठन बनाने की कोशिश की जो उस समय के शक्तिशाली सोवियत संघ के अतिक्रमण से रक्षा कर सके | 


नाटो यूरोप और उत्तरी अमेरिका के country के मध्य एक सैन्य गठबंधन है | यह सामूहिक रक्षा के सिद्धांत पर काम करती है इसका मतलब यह है की इसमें जितना भी सदस्य देश है अगर किसी पर हमला होता है |  


तो सभी पर हमला माना जायेगा | नाटो का कोई भी निर्णय सभी 30  सामूहिक मिलकर लेते है |  


संगठन ने सामूहिक सुरक्षा की व्यवस्था बनाई है अगर सदस्य देश पर हमला होता है तो सहयोग करेंगे और हर परिस्थित से निपटेंगे | 


जब इस संगठन का शुरुआत हुआ था यह संगठन एक राजनितिक संगठन से अधिक कुछ नहीं था | 

लेकिन कोरियाई युद्ध के बाद प्रेरक का काम किया और दो अमरीकी सर्वोच्च कमांडरों के दिशानिर्देश में एक एकीकृत सैन्य संरचना निर्मित किया गया | उस समय लॉर्ड ईश्मे को इस संगठन का महासचिव बनाया गया | 



Nato objective नाटो का उद्देश्य 


  • इसकी स्थापना के समय प्रमुख उद्देश्य सोवियत संघ की साम्यवादी विचारधारा को रोकना था | 
  • जो इसका सदस्य है उसके बीच एकजुटता भावना पैदा करना | 
  • वर्तमान और भविष्य के खतरों से निपटने के लिए | 
  • आपने सदस्य देशो के क्षेत्र की रक्षा करना | 
  • समुद्र से संभावित खतरों से अपने सहयोगियों को रक्षा करने में मदद करना | 
  • आतंकवाद को किसी भी रूप से स्वीकार न करना उसको रोकना | 


Nato work नाटो का कार्य 


इसका कार्य आतंकवाद को जो बहुत बड़ी विश्व का समस्या है उससे निपटने के साथ - साथ हमले के परिणामो का प्रबंधन के लिए नई क्षमता और प्रौद्योगिकियों का विकास करना | 

किस भी समस्या का शांतिपूर्ण तरीको से समस्या का हल निकलना | आपने सदस्य देशो के क्षेत्र की रक्षा करना | Full form of nato यह संगठन आतंकवाद को किसी भी प्रकार से स्वीकार नहीं करता है | 



नाटो के समक्ष चुनौती 



आतंकवाद जैसे खतरों से निपटना | 

परमाणु हथियार के प्रसार और बड़े पैमाने पर विनाश के अन्य हथियार के प्रसार को रोकना | 

इस समय जो साइबर हमले होते है उसे बचाव करना | 

प्रदुषण एक बहुत बड़ा संकट बन गया है उसे रोकना | 

सैन्य अभिनयो के दौरान मानव तस्करी का मुकाबला करना | 



संरचना 


इसकी संरचना 4 अंगो से मिलकर बनी है | उत्तर अटलांटिक परिषद की बैठकों की अध्यक्षता महासचिव करता है और जब निर्णय लेना होता है | 

परिषद :

 यह सर्वोच्च अंग है इसका मंत्रिस्तरीय बैठक साल में एक बार होती है राज्य का मंत्रियो द्वारा निर्माण होता है परिषद का मुख्य उत्तरायित्व समझौते की धाराओं को लागू करना है | 


उप परिषद : 

यह परिषद नाटो के सदस्य देशो द्वारा नियुक्त कुटनीतिक प्रतिनिधियों का परिषद है | 


प्रतिरक्षा समिति : 

सदस्यों देशो का प्रतिरक्षा मंत्री शामिल होते है | इसका काम है प्रतिरक्षा रणनीति तथा नाटो और गौर नाटो देशो में सैन्य संबंधी विषयों पर विचार विमर्श करना | 


सैनिक समिति : 

इसमें सदस्य country के सेनाध्यक्ष शामिल होते है | प्रतिरक्षा समिति को सलाह देना इसका मुख्य कार्य है इसमें सदस्य देशो के सेनाध्यक्ष शामिल होते है | 


दोस्तों आशा करते है की यह नाटो क्या है इसका इतिहास उदेश्य चुनौती मेंबर देश और Full form of nato का यह आर्टिकल आपको अच्छा लगा होगा | 


 
 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ